दर्शन शास्त्र विभाग

संगोष्ठी /सम्मेलन/ कार्यशाला / पुनश्चर्या/ अभिविन्यास आदि आयोजित :

विभाग ने व्यक्तिगत और संयुक्त रूप से संगोष्ठियों, चर्चाओं, संभाषणोंका राज्य, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तरों पर आयोजन किया है।त्रिपुराविश्वविद्यालय के संस्कृत विभाग तथा विश्व निम्बार्क परिषद् के सामूहिकसहयोग से निम्बार्क दर्शन और विश्व शान्ति पर अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी काआयोजन किया गया।त्रिपुरा विश्वविद्यालय के अंग्रेजी,बांग्ला और संस्कृतविभागों के सहयोग से “मिंगल्ड वॉयसेज: साहित्य और दर्शन’’ पर राष्ट्रीयसंगोष्ठी का आयोजन किया गया। विभाग ने भारतीय दर्शन अनुसंधान परिषद् द्वाराप्रायोजित ‘‘श्रीमद्‌ भगवत गीता, स्वामी विवेकानन्द और महात्मा गांधी केविशेष सन्दर्भ के साथ भारतीय संस्कृति के आधारभूत मूल्यों तथा उनकी राष्ट्रके पुनःनिर्माण में प्रासंगिकता’’पर राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया।

 


 

कुल विजिटर्स की संख्या : 4971732

सर्वाधिकार सुरक्षित © त्रिपुरा विश्वविद्यालय

अंतिम अद्यतनीकरण : 20/06/2024 02:03:05

रूपांकन एवं विकास डाटाफ्लो सिस्टम