त्रिपुरा विश्वविद्यालय का व्यावसायिक संपोषक(टीयूबीआई) केन्द्र

सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय (एमएसएमई), भारत सरकार द्वारा निधि पोषित

टीयूबीआई का संक्षिप्त परिचय

पूरे पूर्वोत्तर भारत में त्रिपुरा विश्वविद्यालय स्थित व्यावसायिक (बिजनेस) संपोषक केन्द्र ऐसा पहला केन्द्र है जो एमएसएई मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा निधि पोषित है। एमएसएमई मंत्रालय द्वारा पूर्ण रूप से समर्थित व संवर्धित यह केन्द्र अपने लक्ष्य की ओर अग्रसर है। टीयूबीआई का उद्देश्यव्यावसायिक लाभ हासिल में करने में सक्षम सभी इंक्यूबेटीज के विचारों को संग्रहित कर उस पर कार्य करना है। यह केन्द्र व्यावसायिक संवर्धन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से अपने अपने शोध एवं गुणात्मक संकायों के सहयोग से क्षेत्र में में अनुकूल व्यावसायिक परिस्थिति निर्मित करने में संलग्न है।

उद्देश्य

केन्द्र पूर्वोत्तर भारत के छात्रों के लिए विश्वस्तरीय केन्द्र के तौर पर समुन्नत होने की ओर अग्रसर है।

प्रस्ताव

टीयूबीआई अपने उद्देश्य पर बना रहकर अपने सभी प्रस्तावों को अंतिम रूप प्रदान करना चाहता है जिसके अंतर्गत वह निम्न कार्य को करना चाहता है :

कुल स्वीकृत विचारों (आइडिया) की सं.: 02

कुल स्वीकृत राशि रु.: 1 करोड़

स्वीकृत पत्र की प्रति हेतु यहां क्लिक करें:Click to View Sanction Letter

फोटो नाम पदनाम विभाग
श्री हरजीत नाथ संपोषक रासायनिक एवं बहुलक अभियांत्रिकी विभाग, त्रिविवि
डॉ. मंदाकिनी गोगोई संपोषक शोधार्थी, सूक्ष्मजैविकी विभाग, त्रिविवि
प्रो. देबर्षि मुखर्जी समन्वयक / सीईओ प्राध्यापक एवं अध्यक्ष, व्यावसायिक प्रबंधन विभाग, त्रिविवि
विस्तृत जानकारी हेतु व्यावसायिक प्रबंधन विभाग देखें (वेबसाइट: tripurauniv.ac.in)
डॉ. निर्मल्य देबनाथ सहायक समन्वयक सहायक प्राध्यापक, व्यावसायिक प्रबंधन विभाग, त्रिविवि
 
 

कुल विजिटर्स की संख्या : 3546839

सर्वाधिकार सुरक्षित © त्रिपुरा विश्वविद्यालय

अंतिम अद्यतनीकरण : 25/06/2022 02:03:33

रूपांकन एवं विकास डाटाफ्लो सिस्टम