आंतरिक गुणवत्ता आश्वासन प्रकोष्ठ (आईक्यूएसी)

यूजीसी की अधिसूचना F.No.20-1/2009(IUC), के अनुपालन में उच्च शिक्षा के संस्थानों के प्रदर्शन मूल्यांकन, मूल्यांकन और मान्यता और गुणवत्ता उन्नयन के लिए इसकी कार्य योजना तैयार करने हेतु माननीय कुलपति, त्रिपुरा विश्वविद्यालय ने आंतरिक गुणवत्ता आश्वासन प्रकोष्ठ (IQAC) की स्थापना की। राष्ट्रीय मूल्यांकन और प्रत्यायन परिषद (एनएएसी), बैंगलोर के दिशानिर्देशों के बाद आईक्यूएसी समिति का गठन किया गया है जिसमें निदेशक, आईक्यूएसी इसका सचिव होगा। त्रिपुरा विश्वविद्यालय और उससे संबद्ध उच्च शिक्षा संस्थानों (एचईआई) की गुणवत्ता में वृद्धि एक सतत प्रक्रिया है, इसलिए आईक्यूएसी त्रिपुरा विश्वविद्यालय की प्रणाली का हिस्सा बनेगा और गुणवत्ता वृद्धि और रोजगार के लक्ष्यों की प्राप्ति की दिशा में काम करेगा। आंतरिक गुणवत्ता आश्वासन प्रकोष्ठ का मुख्य कार्य संस्थानों के समग्र प्रदर्शन में जागरूक, सुसंगत और उत्प्रेरक सुधार के लिए एक प्रणाली विकसित करना है।

इसके लिए, आईक्यूएसी, त्रिपुरा विश्वविद्यालय सहकर्मी-समिति(पीयर कमेटी) की सिफारिशों सहित समग्र शैक्षणिक उत्कृष्टता को बढ़ावा देने की दिशा में अपने प्रयासों और उपायों को दिशा देता है। आईक्यूएसी, त्रिपुरा विश्वविद्यालय द्वारा छात्रों के लिए फीडबैक प्रारूप का संकलन और विश्लेषण किया गया है। संकायों के लिए वार्षिक प्रदर्शन मूल्यांकन रिपोर्ट (एपीएआर) लागू कर दी गई है। विश्वविद्यालय के स्टेकहोल्डर्स के लिए विभिन्न फीडबैक प्रारूपों को लागू किया गया है।

➤ Director details

Prof. Binod Chandra Tripathy

Director

फोन: (का.): ---
मेल : director_iqac[at]tripurauniv.ac.in

➤ Green Audit Report


➤ आईक्यूएसी की कार्यवाही


➤ ACTION TAKEN REPORT OF IQAC MEETINGS


➤ समिति संबंधी अधिसूचना


➤ Feedback Froms


➤ Reports





एक्यूएर विवरण के लिए क्लिक करें
 

कुल विजिटर्स की संख्या : 3150921

सर्वाधिकार सुरक्षित © त्रिपुरा विश्वविद्यालय

अंतिम अद्यतनीकरण : 05/12/2021 00:56:39

रूपांकन एवं विकास डाटाफ्लो सिस्टम